namaste!

वन्दे मातरम........!!

13 Posts

292 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 11187 postid : 56

हँसते रहिये...... मुस्कुराते रहिये.....!

Posted On: 21 Jul, 2012 में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

मैं सदैव हंसने का प्रयत्न करता हूँ चाहे कितना भी व्यस्त रहूँ, हंसने का प्रबंध अवश्य कर लेता हूँ! “जीवन में हम कितने ही व्यस्त क्यूँ न हो हंसी उस व्यस्तता को मधुरता में बदलती है……..आप चाहे जितने ही नकारात्मक क्यूँ न हो गए हों एक प्यारी हंसी आपको सकारात्मक बनाने में सक्षम है………
हंसी है तो यह जीवन है…श्रृष्टि है हम हैं आप हैं प्रकृति है………!”

हंसी बड़ी प्यारी है जो हमें इश्वर से वरदान में मिली है………..! पुराने लोग कह गए हैं “हंसो और पेट फुलाओ, जितने आनंद से हंसोगे उतनी आयु बढ़ेगी जिंदगी जिन्दा दिली का नाम है मुर्दा दिली खाक जिया करती है……”
वैज्ञानिकों ने अपने प्रयोगों में हंसी को औषधि स्वरुप माना है…….ऋषि मुनियों ने हंसी को आनंद का मूल स्त्रोत बताया है…….वह कह गए हैं हंसी अतिउत्तम है इससे बड़ी औषधि कोई ओर नहीं…….. यह पाचन सकती बढाती है रक्त को चलती है शरीर में पसीना लाती है हंसी एक शक्तिशाली दिव्यशक्ति है…..
जी से हंसो आपको अच्छा लगेगा…….अपने मित्र को हंसाओ वह अधिक प्रसन्न होगा…….. शत्रु को हंसाओ आपसे कम घृणा करेगा…….. एक अनजान को हंसाओ आप पर भरोसा करेगा……. उदास को हंसाओ वह मुश्कुरायेगा, किसी निराश को हंसाओ उसमे आशा उत्पन्न होगी………. एक बूढ़े को हंसाओ वह स्वयं को जवान समझेगा……. बालक को हंसाओ वह स्वस्थ रहेगा, युवक को हंसाओ उसमे आत्मविश्वास का प्रवाह होगा………..!
यह हंसी ही तो है………लाख दुखों की बस एक दवा…….. !cute_little_babies_hq-t1

जो मनुष्य हँसते नहीं उन्हें इश्वर बचाए………..जहाँ तक हो सके हंसी से आनंद प्राप्त कीजिये प्रसन्न लोग कोई अनुचित बात नहीं कहते…..मुस्कुराने वाले व्यक्ति का आत्मविश्वास कभी कम नहीं होता…………
हंसी स्वभाव को अच्छा करती है……. जी बहलाती है और बुद्धि को निर्मल करती है…….!हँसते डॉक्टर का चेहरा बीमार मरीज़ की घर में दवा की कडवी बोतल से अच्छा है…….!
Victor बोर्गे के अनुसार “Laughter is the shortest distance between two people.” अर्थात संबंधों का सृजन है हंसी ……सभी कष्टों का निवारण है हंसी ……..सभी दायित्वों का निर्वहन है हंसी ……….कर्त्तव्य का पालन है हंसी …….सुख कि संवृद्धि का कारण है हंसी………..

शुभकामनाओं के साथ
स्नेह्साहित आपका अपना
प्रीतीश

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (8 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

40 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

PRADEEP KUSHWAHA के द्वारा
July 30, 2012

जी हँसते रहिये, हंसाते रहिये

alkargupta1 के द्वारा
July 29, 2012

प्रीतिश जी , हंसना,हँसाना और मुस्कुराना व मुस्कुराते रहना ज़िन्दगी की सबसे बड़ी सौगात है……….सुख की समृद्धि का कारण है हंसी……बहुत ही सुन्दर… बहुत ही बढ़िया लिखा है….

minujha के द्वारा
July 29, 2012

प्रीतीश जी नमस्कार आपकी प्रथम रचना से रूबरू हो रही हुं,क्योंकि इन दिनों मंच पर सक्रियता कम है,आपने सच कहा इंसान को हमेशा  हंसते रहना चाहिए…….,हमारी तरफ एक कहावत है जिसका सार भी यही है कि हंसता घर ही बसता है,अच्छी रचना की बधाई

rekhafbd के द्वारा
July 28, 2012

प्रतीश जी,सादर, हँसते हंसाते रहिये मुस्कराहट सबके होंठों पर आप हम सदा लाते रहें गे ,बहुत खूब ,मेरा लेख मोतीचूर का लड्डू जरुर पढ़िये गा ,आभार

    pritish1 के द्वारा
    July 29, 2012

    सादर प्रणाम धन्यवाद….!

meenakshi के द्वारा
July 27, 2012

प्रीतीश जी, ” हंसने ..” पर आपने काफी अच्छा लेख लिखा है ; परन्तु ध्यान रखना चाहिए कि हँसना- हँसाना स्वस्थ हो ; जैसे- हंसने – हंसाने में तनिक अभद्रता न दर्शायी दे; किसी का उपहास न होने पाए और परिस्थिति व व्यक्ति विशेष का भी ध्यान रखना चाहिए आदि- आदि. फिर तो हँसी …लाज़वाब होगी… बहुत-२ बधाई के साथ- मीनाक्षी श्रीवास्तव

    pritish1 के द्वारा
    July 29, 2012

    धन्यवाद आपका………आपने उचित कहा…!

shashibhushan1959 के द्वारा
July 26, 2012

आदरणीय प्रीतिश जी, सादर ! “”"मुस्कुराने वाले व्यक्ति का आत्मविश्वास कभी कम नहीं होता…………”"”" बहुत खूब ! अच्छी रचना ! सौ ग्राम देशी घी और एक घंटे की हँसी – दोनों बराबर गुणकारी हैं ! बधाई !

    pritish1 के द्वारा
    July 29, 2012

    सादर प्रणाम……..धन्यवाद…..! आपके शब्द प्रेरणादायक हैं…….सौ ग्राम देशी घी और एक घंटे की हँसी – दोनों बराबर गुणकारी हैं ! प्रीतीश

Santosh Kumar के द्वारा
July 26, 2012

श्री प्रीतीश जी ,.सादर अभिवादन अनमोल विचार प्रवाह ,..प्रेरणास्पद ,…बीमारों के लिए आजमाई औषधि ,..हार्दिक अभिनन्दन

    pritish1 के द्वारा
    July 29, 2012

    धन्यवाद………!

surendra shukla bhramar5 के द्वारा
July 24, 2012

प्रिय प्रीतिश जी बहुत सुन्दर टिप्स और सच्चाई बयान की आप ने ..आधा दर्द तो यों ही काफूर हो जाता है जब हंसी आये दिल का दौरा पड़े तो हाथ ऊपर उठाओ और जोर से हंस दो या हंसा दो हार्ट अटैक बच जाएगा …बाकी सब तो आप ने लिखा ही है पल भर में नयना चार हों मुस्कुराहट बिखर जाए तो लहर दौड़ जाती है दिल में खून का संचार तारो ताजा बहुत कुछ …बाकी आप की बातें मै भी दोहराता हूँ जी से हंसो आपको अच्छा लगेगा…….अपने मित्र को हंसाओ वह अधिक प्रसन्न होगा…….. शत्रु को हंसाओ आपसे कम घृणा करेगा…….. एक अनजान को हंसाओ आप पर भरोसा करेगा……. उदास को हंसाओ वह मुश्कुरायेगा, किसी निराश को हंसाओ उसमे आशा उत्पन्न होगी………. एक बूढ़े को हंसाओ वह स्वयं को जवान समझेगा……. बालक को हंसाओ वह स्वस्थ रहेगा, युवक को हंसाओ उसमे आत्मविश्वास का प्रवाह होगा…

    pritish1 के द्वारा
    July 26, 2012

    धन्यवाद भ्रमर जी……..सादर प्रणाम…

manoranjanthakur के द्वारा
July 24, 2012

हसी तो शादी के बाद भी आयेगी मगर खुद पर हा हा हा बहुत बधाई

    pritish1 के द्वारा
    July 26, 2012

    शादी का पता नहीं मैं शादी नहीं करना चाहता……… सन्यास और rastrahit में कार्य ही मेरे आनद का स्त्रोत है……..

Acharya Vijay Gunjan के द्वारा
July 23, 2012

preeteesh jee, sasneh namaskaar !…. atisundar prastuti !.. hasnaa to zindagee hai haste hee rahiye ! jeevan anmol granth parhte hee rahiye !!

    pritish1 के द्वारा
    July 26, 2012

    धन्यवाद……सादर प्रणाम….आपके शब्द महत्वपूर्ण हैं……

yogi sarswat के द्वारा
July 23, 2012

हँसते डॉक्टर का चेहरा बीमार मरीज़ की घर में दवा की कडवी बोतल से अच्छा है…….! बहुत बढ़िया , प्रेरणादायक लेख ! प्रीतिश जी , लिखते रहिये

    pritish1 के द्वारा
    July 26, 2012

    सप्रेम मित्रवर आपका धन्यवाद……!

yamunapathak के द्वारा
July 23, 2012

smile is rainbow of life and laughter is ———————-? bahut sundar sandesh peetish jee

    pritish1 के द्वारा
    July 26, 2012

    सादर प्रणाम आपने सही कहा…….आपने मेरी प्रशंसा की बहुत अच्छा लगा…..

Rajkamal Sharma के द्वारा
July 22, 2012

अपनी शादी से पहले जितना हंस सकते हो हंस लीजिए क्या पता फिर बाद में ?….. :-D :-o :-( :-? :-x :-) :-P :mrgreen: :oops: :roll: :cry: :evil: ;-) :-D :-o :-( :-? :-x :-) :-? :-x :-) :-? :-x :-) :mrgreen: :oops: :roll: :cry: :evil: ;-) :-P :-? :-x :-) :evil: ;-) :-D :-o :-( :-D :evil: ;-) :-D :mrgreen: :-? :-x :-) : :roll: :oops: :-D :-o :-( :-? :-x :-) :-P :mrgreen: :oops: :roll: :cry: :evil: ;-) :-D :-o :-( :-? :-x :-) :-P :mrgreen: :oops: :roll: :cry: :evil: ;-) :-D :-o :-( :-? :-x :-) :-P :mrgreen: :oops: :roll: :cry: :evil: ;-) जय श्री कृष्ण जी

    jlsingh के द्वारा
    July 23, 2012

    गुरुदेव ने सच कहा है उदाहरण मौजूद है ….. हंसमुख आनंद प्रवीन शादी के बाद देखिये न मंच से ही गायब है! हंसी का तो पता नहीं…. बेचारा प्रवीन आनंद !!!!!

    pritish1 के द्वारा
    July 23, 2012

    आपकी प्रतिक्रियाओं से मैं प्रसन्न हूँ……मैं विवाह नहीं करूँगा…….मैं वैरागी हूँ …….! सप्रेम……..धन्यवाद प्रीतीश

    yamunapathak के द्वारा
    July 23, 2012

    “दो कदम तुम(पति);दो कदम हम(पत्नी)” के सिद्धांत पर आप सब विवाह के बाद चलो तो हंसी गायब नहीं बल्कि दोगुनी हो जायेगी और दुनिया आपसे हंसी और खुशी दोनों ही उधार मांगेगी. आमीन…………..

    shashibhushan1959 के द्वारा
    July 26, 2012

    वाह ….! वाह ……. !! बीमारी और उसका मंतर – दोनों साथ साथ !

dineshaastik के द्वारा
July 22, 2012

प्रितीश जी, हँसी का बहुत ही सटीक महिमा मंडन…….हँसी हमें कभी तन्हाँ नहीं  होने देती…..

    pritish1 के द्वारा
    July 26, 2012

    धन्यवाद…….!

ambric04 के द्वारा
July 21, 2012

अच्चा लिखा है बन्धु हँसते रहिये मुस्कुराते रहिये :)

    pritish1 के द्वारा
    July 26, 2012

    नमस्कारम बन्धु………

akraktale के द्वारा
July 21, 2012

प्रीतिश जी सही कहा हंसी स्वास्थ की कुंजी है. मगर किसी पर हंसना बुरी बात है. वैसे तो कहा ही जाता है मुस्कुराना संक्रामक है. खुश रहो सदा आपकी हंसी कायम रहे. शुभकामनाएं.

    pritish1 के द्वारा
    July 26, 2012

    आपके शब्द महत्वपूर्ण हैं….. मेरा सादर प्रणाम प्रीतीश

jalaluddinkhan के द्वारा
July 21, 2012

हंसी वास्तव में एक टानिक है.इस विषय पर कलम चलाना सकारात्मक सोच की तरफ इशारा करता है और जीवन के प्रति सकारात्मक सोच पैदा करता है.एक अच्छी रचना के लिए बधाई.

    pritish1 के द्वारा
    July 26, 2012

    धन्यवाद सर जी…….आपने सच कहा है……

nishamittal के द्वारा
July 21, 2012

प्रसन्नता एक दिव्य उपहार है .सुन्दर विचार

    pritish1 के द्वारा
    July 26, 2012

    सादर प्रणाम…….ह्रदय से आभार……….!

phoolsingh के द्वारा
July 21, 2012

उत्तम सर बहुत ही सुंदर लेख है, फूल सिंह

deepaksharmakuluvi के द्वारा
July 21, 2012

WONDERFUL

Chandan rai के द्वारा
July 21, 2012

प्रीतिश जी , “Laughter is the shortest distance between two people.” अर्थात संबंधों का सृजन है हंसी ……सभी कष्टों का निवारण है हंसी ……..सभी दायित्वों का निर्वहन है हंसी ……….कर्त्तव्य का पालन है हंसी …….सुख कि संवृद्धि का कारण है हंसी…… आपने आज आपाधापी भरे जीवन में बहुत सुन्दर सन्देश दिया है

    pritish1 के द्वारा
    July 21, 2012

    धन्यवाद चन्दन जी……. मैं आपके ही ब्लॉग पर हूँ……!


topic of the week



latest from jagran